जीवन में सफलता के अपनाए वैज्ञानिक दृष्टिकोण

0
24

 

संवाद सूत्र, गरुड़: तहसील के राजकीय इंटर कालेज में विज्ञान को सरल, व्यावहारिक और रोचक बनाने के लिए विज्ञान काíनवल का आयोजन किया गया। इस मौके पर बच्चों को विभिन्न प्रयोगों के माध्यम से विविध जानकारियां दी गई।

 

अजीम प्रेमजी फाउंडेशन और ब्लॉक संसाधन समूह के माध्यम से आयोजित विज्ञान काíनवल का शुभारंभ करते हुए राष्ट्रीय विज्ञान संग्रहालय परिषद भारत सरकार के पूर्व महानिदेशक और कत्यूर फाउंडेशन के अध्यक्ष डॉ. गंगा ¨सह रौतेला ने किया। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक दृष्टिकोण और वैज्ञानिक प्रयोगों से ही जीवन में आगे बढ़ा जा सकता है। उन्होंने बच्चों को रोजमर्रा की चीजों में आए वैज्ञानिक प्रयोगों और दृष्टिकोण से रुबरु कराया।

वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. अर्विदम राणा ने पीरियाडिक टेबल और उसके तमाम एलिमेंट्स को नामों के एल्फाबेट के जरिए रोचक तरीके से समझाया और बच्चों को उनके नामों में छिपे एलिमेंट्स को ढूंढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि विज्ञान में ऑब्जर्वेशन का बहुत महत्व है। उन्होंने बच्चों को परखनली प्रयोग करके भी दिखाए।

भौतिकशास्त्री डॉ. बीएन दास ने न्यूटन लॉ को प्रयोगों के जरिए बहुत ही आसान शब्दों में बच्चों को बताया। उन्होंने बच्चों को भौतिक विज्ञान के कई प्रयोग करके भी दिखाए।

इस दौरान बीआरसी समन्वयक उमेश जोशी, राइंका के प्रधानाचार्य डीएस पछाई, राबाइंका पुरड़ा की प्रधानाचार्या सोनिया गौरव, अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के विपिन जोशी, मोहन जोशी समेत पाये, गरुड़ के स्कूली बच्चे मौजूद थे।

Curtsy: https://www.jagran.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here